वाक्य विचार, वाक्य के प्रकार for competitive exams

इस अध्याय में हम निम्न बिन्दुओ पर बात करेंगे

  • परिचय
  • वाक्य के तत्व
  • रचना के आधार पर वाक्य का भेद और उनकी पहचान ट्रिक से
  • अर्थ का आधार पर वाक्य का अलग
  • उदाहरण के साथ व्याख्या

परिचय

सार्थक शब्दों का ऐसा क्रम जो पूर्ण अर्थ रखता हो, वाक्य कहलाता है.

वाक्य के तत्व

वाक्य के मुख्यतः 6 तत्व होते है

1.सार्थकता

2.योग्यता

3.आकांक्षा

4.आसक्ति  या निकटता

5.पदक्रम

6.अन्वय

  1. सार्थकता

वाक्य में उपयोग होने वाले शब्द सार्थक होने चाहिए,  जैसे

आना, यहाँ, वहाँ आदि

  1. योग्यता

शब्दों में प्रसंग के अनुसार अर्थ स्पष्ट करने की योग्यता होनी चाहिए, जैसे

  • मुझे दूध खाना पसंद है
  • मुझे दूध पीना पसंद है
  1. आकांक्षा

वाक्य के एक खंड को सुनने के बाद पूरा सुनने की इच्छा हो, जैसे

  • मुन्नी कमरे में अकेली थी और अचानक …
  • मुन्नी कमरे में अकेली थी और अचानक बिजली चली गय
  1. आसक्ति या निकटता

वाक्य के खंडों में ठहराव के समय निकटता होनी चाहिए एवं विराम चिन्हो का उपयोग होना चाहिए

  • कुछ ना कहो, कुछ भी ना कहो
    क्या कहना है, क्या सुनना है
  1. पदक्रम

वाक्य में शब्दों का क्रम अर्थ योग्य होना चाहिए, जैसे

  • मुन्नी तेरे लिए बदनाम डार्लिंग हुई
  • मुन्नी बदनाम हुई डार्लिंग तेरे लिए
  1. अन्वय

वाक्य में उपयोग हो रहे शब्दों जैसे लिंग,वचन,काल, आदि का क्रिया के साथ मेल होना चाहिए, जैसे

  • पप्पू शरारत करती है
  • पप्पू ने मुन्नी के लिए 5 पुस्तक खरीदी

वाक्य के भेद

A. रचना के आधार पर

B. अर्थ के आधार पर

 

A. रचना के आधार पर

1)सरल वाक्य

2)संयुक्त वाक्य

3)मिश्र वाक्य

1) सरल वाक्य  (साधारण वाक्य)

जिस वाक्य में एक उद्देश्य और एक विधेय हो, अर्थात जिसमे सिर्फ एक ही मुख्य क्रिया हो, जैसे

loading...
  • गुड्डू नागिन डांस कर रहा है
  • चमेली ट्रैक्टर चला रही है
  • मुन्नी पिज़्ज़ा खाकर सो गयी

पहचान  Trick

एक वाक्य, एक कर्ता और एक मुख्य  क्रिया

2) संयुक्त वाक्य

जब दो सरल वाक्य या एक सरल और एक मिश्र वाक्य आपस में जुड़े हो तो उसे संयुक्त वाक्य कहते है,

 पहचान  Trick

अगर वाक्य को जोड़ने के लिए “ और, या, अन्य, लेकिन, अभी भी, जबकि, केवल, के लिए, इसलिए ” आदि शब्दों का उपयोग हो

उदाहरण

  • चमेली नाच रही है और पप्पू देख रहा है
  • बसंती बीमार है लेकिन वह नाचेगी अगर बीरु कहेगा
  • गुड्डू शीला के साथ पिक्चर देखने गया था इसलिए उसकी मम्मी ने उसको धोया

3) मिश्र वाक्य

जो एक से अधिक उपवाक्यों से मिलकर बना होता है, जिसमे स्वतंत्र एवं आश्रित उपवाक्य होते है,

पहचान Trick

वाक्य में शर्तनुमा होते है,

अगर वाक्य को जोड़ने के लिए “ क्योंकि, अगर, हालांकि, पहले, तब, तक, कब, जो, कि, जब ” आदि शब्दों का उपयोग हो

  • जब मैं मार्केट जाऊंगा तब लॉलीपॉप लाऊगा
  • बसंती नाचेगी अगर वीरू कहेगा
  • यह वही फोन है जो चंपा ने दिया था

 

B. अर्थ के आधार पर वाक्य के भेद

आठ प्रकार है

1.विधानवाचक

2.निषेधवाचक

3.प्रश्नवाचक

4.आज्ञा वाचक

5.इच्छावाचक

6.संदेहवाचक

7.संकेतवाचक

8.विस्मयादिबोधक

1. विधानवाचक

क्रिया के होने का सामान्य बोध हो, जैसे

  • पप्पू बोलबच्चन कर रहा है

2. निषेधवाचक

कार्य न होने का बोध होता है, जैसे

  • पप्पू कांट डांस साला

3. प्रश्नवाचक

इसमें प्रश्न पूछा जाता है, जैसे

  • क्या तुम मेरे लिए जान दे सकते हो ?

4. आज्ञा वाचक

आज्ञा या अनुमति का बोध हो, जैसे

  • आगे से बात मत करना
  • तुम जा सकते हो

5. इच्छावाचक

कामना, आशा, या आशीर्वाद का बोध हो, जैसे

  • मुझसे मोहब्बत का इजहार करती, काश कोई लड़की मुझे प्यार करती

6. संदेहवाचक

शंका या संदेह का बोध होता है, जैसे

  • हो सकता है, पप्पू एक दिन कलेक्टर बन जाये

7. संकेतवाचक

शर्तनुमा वाक्य होते है, एक क्रिया दूसरी क्रिया पर निर्भर होती है, जैसे

  • पप्पू तभी पास होगा, जब वह मेहनत करेगा
  • बशंती तभी नाचेगी, जब बीरु कहेगा

8. विस्मयादिबोधक

  • अरे ! इतना सन्नाटा क्यों है भाई
  • वाह ! मुन्नी ने तो कमाल कर दिया

 

अपने प्रश्न कमेंट बॉक्स में लिखे

Best of Luck

One thought on “वाक्य विचार, वाक्य के प्रकार for competitive exams”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!