Hindi grammar, Ek Vachan se Bahuvachan

एक वचन से बहुवचन

यहाँ पर हम सीखेंगे, एक वचन से बहुवचन जो की परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्नो पर आधारित है.

विषय सूची

  1. परिचय
  2. एक वचन से बहुवचन बनाना
  3. अपवाद

1.परिचय

वचन

दो प्रकार के होते है –

a) एक वचन-

जिस शब्द से एक वस्तु या व्यक्ति का पता चले.

जैसे-

मछली, टोपी, भालू

b) बहुवचन-

जिस शब्द से एक से अधिक व्यक्ति या वस्तु का पता चले.

जैसे-

मछलियाँ, टोपियाँ, भालुओ

 

2. एक वचन से बहुवचन बनाना

यदि शब्द के अंत में ऊ हो तो उसको उ में बदलकर ओं लगा देते है

जैसे

डाकू – डाकुओं

वधू – वधुओं

साधू – साधुओं

यदि स्त्रीलिंग शब्द के अंत में ई हो तो उसको इ में बदलकर याँ लगा देते है

जैसे

गिलहरी – गिलहरियाँ

छिपकली – छिपकलियाँ

बिल्ली – बिल्लियाँ

यदि शब्द के अंत में या हो तो या में  चन्द्र बिंदु लगा देते है, पर वह शब्द स्त्रीलिंग होना चाहिए 

जैसे

कुतिया – कुतियाँ

चुहिया – चुहियाँ

चिड़िया – चिड़ियाँ

यदि पुल्लिंग शब्द के अंत में आ हो तो उसको ए में बदल देते है

जैसे

घोड़ा – घोड़े

चूहा – चूहे

लड़का – लड़के

बच्चा – बच्चे

यदि स्त्रीलिंग शब्द के अंत में अ हो तो उसको ऐें में बदल देते है

जैसे

गाय – गायें

पुस्तक – पुस्तकेँ

मुसीबत – मुसीबतें

यदि स्त्रीलिंग शब्द के अंत में आ हो तो उसको एँ में बदल देते है

जैसे

माला – मालाएँ

लता – लताएँ

अदा – अदाएँ

यदि स्त्रीलिंग संज्ञा शब्द के अंत में ई हो तो उसको इ में बदल कर यों लगा देते है

जैसे

लड़की – लडकियों

साड़ी – साड़ियों

धोती – धोतियों

 

3. अपवाद

कुछ पुल्लिंग शब्दों का प्रयोग सदा बहुवचन में होता है

जैसे-

प्राण, होश, दाँत, मेघ, दर्शन, ऑँसू, बाल, फूल, पक्षी आदि

कुछ शब्दों का प्रयोग सदा एकवचन में होता है

जैसे-

आकाश, पत्नी, जनता, वर्षा, सत्य आदि

प्रत्येक, हरएक शब्दों का प्रयोग सदा एकवचन में होता है

जैसे-

  •  हरएक पुत्र होशियार नहीं होता
  • प्रत्येक व्यक्ति  को दौड़ लगानी  है

बहुवचन कई बार वाक्य पर भी निर्भर करता है

जैसे-

  • खाना बनाना केवल लडकियों का काम नहीं है
  • सभी लडकियाँ लडको से ज्यादा भावुक होती है

उपरोक्त दोनों उदाहरण (लडकियों, लडकियाँ) सही है

 

अपने प्रश्नों के लिए कमेंट बॉक्स में लिखे

Best of Luck

3 thoughts on “Hindi grammar, Ek Vachan se Bahuvachan”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!