BRICS Current Affairs and GK 2018

BRICS 2018

यहां पर हम BRICS से जुड़े सभी महत्वपूर्ण बातों को जानेंगे जो हमारी परीक्षाओ के लिए महत्वपूर्ण हो साथ ही BRICS – 2018 के करंट अफेयर्स के बारे में चर्चा करेंगे, निम्न महत्वपूर्ण बिन्दुओ की हम चर्चा करेंगे –

  • BRICS Current Affairs 2018
  • BRICS का परिचय (introduction)
  • BRICS का इतिहास (History)
  • BRICS के शिखर सम्मेलन (Summit)
  • केवल महत्वपूर्ण बिंदुओं की चर्चा

BRICS Current Affairs 2018

  • इस शिखर सम्मेलन की थीम ‘कोलैबोरेशन फॉर इंक्लूसिव ग्रोथ एंड शेयर प्रोस्पेरिटी इन द फोर्थ इंडस्ट्रियल रेवोलुशन’ थी.
  • यह ब्रिक्स की 10 वीं वार्षिक बैठक है जो 25 से 27 जुलाई 2018 को संपन्न हुई.
  • यह सैंडटोन कन्वेंशन सेंटर, जोहानेसबर्ग दक्षिण अफ्रीका में आयोजित की गई.
  • इसमें ब्राजील के राष्ट्रपति माइकल टेमर, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, चाइना के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, साउथ अफ्रीका के राष्ट्रपति सायरिल रामाफोसा ने भाग लिया.
  • इसमें दो मेहमान राष्ट्र अध्यक्ष अर्जेंटीना के राष्ट्रपति मौरीसिओ माक्री, टर्की के राष्ट्रपति रेसेप अर्दोगान ने भी भाग लिया.
  • वैक्सीन रिसर्च सेंटर मैं सहयोग.
  • साउथ अफ्रीका को 300 मिलियन डॉलर का लोन पास किया गया, जो कि  ब्रिक्स के बैंक ‘न्यू डेवलपमेंट बैंक’ द्वारा दिया गया है.
  • रूस के साइबेरिया में सोने की नई खदानों की खोज एवं सोने की खोज का प्रोजेक्ट लॉन्च किया गया, इसका नाम क्लूचेवस्कोए गोल्ड माइनिंग प्रोजेक्ट रखा गया है.
  • संयुक्त राष्ट्र के सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल को 2030 तक पूरा करने की प्रतिबद्धता जताई.
  • पर्यावरण एवं कृषि में सुधार की बात एवं तकनीकी का विकास पर चर्चा की गई.
  • आतंकवाद को रोकने के उपाय, जनसंख्या नियंत्रण एवं विश्व की शांति के लिए रोड मैप तैयार किया गया.
  • दुनियाभर में मुक्त व्यापार को बढ़ावा देने एवं संरक्षित व्यापार नीति की निंदा की गई.

BRICS का परिचय (Introduction)

BRICS दुनिया की 5 सबसे बड़ी उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं का समूह है. पहले इसमें केवल 4 राष्ट्र थे जिसमें ब्राजील, रूस, इंडिया और चाइना थे एवं पहले इसे BRIC कहा जाता था बाद में 2010 में साउथ अफ्रीका ने भी इसको ज्वाइन कर लिया और इसका नाम BRICS हो गया. ब्रिक्स देशों में पूरी दुनिया की लगभग 41 % जनसंख्या निवास करती है इसलिए यह संयुक्त राष्ट्र के बाद दूसरा सबसे बड़ा संगठन है. इसका जीडीपी पूरे विश्व के जीडीपी का 23.2 % है. ब्रिक्स की सालाना बैठक इसके सदस्य देशों में किसी एक में आयोजित की जाती है. ब्रिक्स का अपना एक बैंक भी स्थापित किया जा चुका है जिसे ‘न्यू डेवलपमेंट बैंक’ नाम दिया गया है.

BRICS का इतिहास (History)

ब्रिक शब्द की उत्पत्ति 2001 में गोल्डमैन सैक्स द्वारा की गई. शुरू में चार देश ब्राजील, रसिया इंडिया और चाइना के वित्त मंत्रियों की न्यूयॉर्क में बैठक हुई. ब्रिक की अधिकारिक पहली मीटिंग 16 जून 2009 में येकटरिंगबर्ग, रूस में हुई, इसमें 4 देशों के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिमित्री मेदवेदेव, मनमोहन सिंह, हू जिंताओ, लूला डा सिल्वा शामिल हुए. पहली मीटिंग का उद्देश्य विश्व की आर्थिक गतिविधियों को सुधारना था. इस मीटिंग में यह डिसाइड किया गया कि डॉलर के प्रभाव को कम करके ब्रिक की अपनी एक अलग करेंसी होने चाहिए.

2010 में साउथ अफ्रीका ने भी BRIC में शामिल होने की इच्छा जताई और इसके लिए प्रयास किया इसी के परिणाम स्वरुप 4 दिसंबर 2010 को ब्रिक की तरफ से साउथ अफ्रीका को जॉइनिंग का इनविटेशन दिया गया. इसके बाद BRIC में S जोड़ दिया गया तथा बाद में इसका नाम BRICS हो गया. 15 जुलाई 2015 को ब्रिक्स की छठवीं बैठक के साथ ‘न्यू डेवलपमेंट बैंक’ की स्थापना की गई जिसमें 100 बिलियन यूएस डॉलर की शुरुआती पूंजी रखी गई. इसका हेड क्वार्टर शंघाई चाइना में बनाया गया तथा इसका पहला प्रेसिडेंट के वी कामथ को बनाया गया.

BRICS के शिखर सम्मेलन (Summits)

सम्मेलन समय स्थान
1 16  जून 2009 येकटरिंगबर्ग, रूस
2 15  अप्रैल 2010 ब्रासीलिया, ब्राजील
3 14  अप्रैल 2011 सैन्य, चीन
4 29  मार्च 2012 नई दिल्ली, इंडिया
5 26  मार्च 2013 डरबन, साऊथ अफ्रीका
6 14  जुलाई 2014 फोर्टलेजा, ब्राजील
7 8  जुलाई 2015 ऊफ़ा, रूस
8 15  अक्टूबर 2016 गोवा, इंडिया
9 3  सितम्बर 2017 ज़ियामेन, चीन
10 25  जुलाई 2018 जोहान्सबर्ग, अफ्रीका
11   ..   2019 ब्राजील
12   ..   2020 रूस

 

BRICS की वेबसाइट भी है जहा से भी आप सारी जानकारी प्राप्त कर सकते है, वेबसाइट में जाने के लिए नीचे की लिंक पर क्लिक करे.
Website

अपने प्रश्न कमेंट बॉक्स में लिखे

BRICS Current Affairs and GK PDF click  Here for download

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!